Shighrapatan Doctor Near Me – शीघ्रपतन चिकित्सक

शीघ्रपतन क्या है?

शीघपतन शर्मिन्दगी देेने वाली सेक्स समस्या या गुप्त रोग है। सेक्स या संभोग करते समय जब पुरूष का स्त्री को या पति का पत्नी को बिना संतुष्ट किये ही वीर्य निकल जाता है या शीघ्र स्खलन हो जाये तो इस स्थिति को शीघ्रपतन रोग (Shighrapatan) कहते हैं। शीघ्रपतन दोनों (स्त्री-पुरूष) के लिए विवाहित जीवन को नीरस करने वाली प्रमुख सेक्स समस्या है।

Shighrapatan Doctor Near Me
Shighrapatan Doctor Near Me

शीघ्रपतन के कारण क्या हैं?

शीघ्रपतन का मुख्य कारण पुरूषों द्वारा अत्यधिक मात्रा में हस्तमैथुन (बचपन की गलतियां) करके वीर्य बर्बाद कर लेना और लिंग की नसों में कमजोरी बन जाना, अधिक स्वप्नदोष होना, सप्तधातुओं की कमी के कारण मस्तिष्क का काम संबंधी केन्द्र दुर्बल पड़ जाना, अनियमित जीवन शैली, मोटापा, नशे की लत आदि हैं। जिससे वीर्यवाहिनी ग्रन्थियों मे वीर्य को रोकने की शक्ति कमजोर पड़ जाती है और सेक्स के समय वीर्य जल्दी स्खलित हो जाता है तथा स्त्री 

असंतुष्ट (Unsatisfied) ही रह जाती है।शीघ्रपतन के लक्षण क्या हैं?

चरमसुख पर पहुंचने से पहले वीर्य निकल जाना शीघ्रपतन का प्रमुख लक्षण है। कुछ रोगियों में शीघ्रपतन रोग की दशा इतनी गंभीर होती है कि केवल स्पर्श या फिर कल्पना मात्र से ही वीर्य स्खलित हो जाता है। यदि यह समस्या बनी रहे और इसका रोगी उपचार न कराये, तो रोगी अंत में नपुंसकता रोग से भी पीड़ित हो सकता है।शीघ्रपतन की पहचान क्या है?

सेक्स के दौरान स्त्री से पूर्व पुरूष का स्खलित हो जाना शीघ्रपतन की पहचान होती है। यूं तो शीघ्रपतन की पहचान एक बार में केवल जल्दी स्खलित होने को लेकर ही हो सकती है, कई बार पुरूष तो स्खलित होेने पर सेक्स की तृप्ति प्राप्त कर ही लेते है लेकिन पत्नी अतृप्त रहने के बावजूद भी शर्म संकोच व लाज के कारण पति को असलियत नहीं बता पाती।

शीघ्रपतन का विवाहित जीवन पर क्या असर पड़ता है?शीघ्रपतन के रोगी पुरूष से स्त्री, सेक्स के लिए कतराने लगती है, क्योंकि स्त्री को सेक्स में पूरी संतुष्टि ना मिलने पर उसकी मानसिक बेचैनी व तनाव बढ़ जाता है।

शीघ्रपतन के रोगी की पत्नी के मन और स्वास्थ्य पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। लगातार सेक्स में असंतुष्ट रहने के कारण स्त्री का स्वभाव चिड़चिड़ा हो जाता है, आगे चलकर चिंता व दुख आदि के कारण स्त्री को कोई न कोई शारीरिक रोग भी हो जाता है और विवाहित जीवन की बंधी हुई माला (रिश्ता) टूटकर बिखरने के लिए तैयार हो जाती है।

कुछ स्त्रियां तो सेक्स की संतुष्टी प्राप्त करने के लिए पराये पुरूष का सहारा भी ढूंढ लेती हैं, जिससे उसका पति समाज एवं मित्रों में मजाक का विषय बनकर रह जाता है और विवाहित जीवन की खुशियों में ग्रहण लग जाता है।

पुरूष अपने व्यक्गित या व्यावसायिक जीवन में आत्मविश्वास खो देता है, जिससे अवसाद और चिंताएं उसे घेर लेती हैं और नकारात्मक सोच उसकी जिंदगी का हिस्सा बन जाती है। शीघ्रपतन से पीड़ित लोगों को भविष्य में बांझपन की स भी हो सकती है।

शीघ्रपतन का इलाज कैसे किया जाता है?

शीघ्रपतन के गुप्त रोगी भाइयों को डॉ। मोंगा क्लिनिक की यही नेक सलाह है कि वे शीघ्रपतन का इलाज बिना किसी शर्म संकोच के जल्द से जल्द करवायें। हम सही सटीक सलाह व इलाज देकर शीघ्रपतन की समस्या को हमेशा के लिए समाप्त करके भरपूर रूकावट प्रदान करायेंगे। ताकि आप पूरी मौजमस्ती के साथ सेक्स का आनंद उठाते हुए अपनी पत्नी को मनचाही संतुष्टि व खुशी प्रदान कर सकें और खुशहाल व संतुष्टिदायक विवाहित जीवन बिता सकें।

शीघ्रपतन के इलाज के लिए डॉ। मोंगा क्लिनिक ही क्यों?

  • चेतन क्लिनिक पिछले 25 वर्षों से शीघ्रपतन जैसे गुप्त रोगों का सफलता पूर्वक इलाज कर रहा है और बिना किसी साइड इफेक्ट के दवाओं से गुप्त रोगियों को स्थायी फायदा मिले ऐसे कई शोध पर कामयाबी पा चुका है।
  • चेतन क्लिनिक की विशेषता है कि यहां गुप्त रोगियों की गोपनीयता को सर्वोपरि रखा जाता है।
  • चेतन क्लिनिक में रोगियों का इलाज करते हुए मनोवैज्ञानिक व शारीरिक दोनों ही कारणों को ध्यान में रखा जाता है।
  • चेतन क्लिनिक पूरी काउन्सलिंग के बाद इलाज के साथ-साथ डाइट, उचित जीवन शैली, व्यायाम व घरेलू उपाय आदि की भी पूरी सलाह देता है।
  • यदि आप में से कोई भी शीघ्रपतन जैसे गुप्त रोगों से पीड़ित है, तो दिल्ली एनसीआर में पुरूषों की सेक्स समस्या के लिए सबसे अच्छा सेक्स क्लिनिक डॉ। मोंगा क्लिनिक के सेक्सोलाॅजिस्ट डाॅक्टर्स से निःसंकोच परामर्श कर स्थायी (Permanent) इलाज प्राप्त करें।

शीघ्रपतन कोई स्थायी समस्या नहीं है। यह पूरी तरह से सही इलाज लेने पर जड़ से ठीक हो जाती है। इसलिए आज ही डॉ। मोंगा क्लिनिक से सम्पर्क करें।

Read More: BENEFITS OF AYURVEDA AND HOW IT WORKS

Read More : चेहरा कैसे साफ करें: शीर्ष चेहरे की सफाई के लाभ और कदम

शीघ्रपतन के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल – Shighrapatan Doctor Near Me

प्र. 1) शीघ्रपतन कितने प्रकार का होता है?

शीघ्रपतन मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं-

  • पहला वो जिसमें रोगी का वीर्य, लिंग प्रवेश से पूर्व ही स्खलित हो जाता है।
  • दूसरा रोगी प्रथम सेक्स के दौरान तो दो-चार आघात में ही स्खलित हो जाता है, लेकिन इसके विपरीत दूसरी बार में सेक्स करने पर जल्दी स्खलित नहीं होता।

प्र. 2) औसतन सेक्स टाइमिंग कितनी होनी चाहिए?

एक अध्ययन के अनुसार सेक्स की औसत टाइमिंग 4 से 5 मिनट है। जबकि सेक्स का सही समय तो पति-पत्नी का संतुष्ट होना होता है, फिर चाहे वो एक मिनट हो या आधा घंटा। लेकिन स्तंभन उम्र, हेल्थ, माहौल, यौन गतिविधि आदि कई कारणों पर निर्भर करता है।

प्र. 3) क्या शीघ्रपतन का इलाज संभव है?

जी बिल्कुल, शीघ्रपतन का इलाज संभव है। वैसे भी आजकल शीघ्रपतन होना एक आम समस्या है, जिससे लगभग 10 में से 7 पुरूष ग्रसित हैं। इससे आपको घबराने या डरने की कोई जरूरत नहीं है। आप निश्चिंत होकर इलाज व परामर्श के लिए हमसे मिल सकते हैं।

Read More : 24 घंटे के भीतर पाए पाइल्स के दर्द से राहत

Read More : जाने वियाग्रा सेवन करने के फायदे और नुकसान ?

प्र. 4) शीघ्रपतन को कैसे रोक सकते हैं?

निम्न कदम उठाकर शीघ्रपतन को रोका जा सकता है-

  • हस्तमैथुन व अप्राकृतिक मैैथुन जैसी गलतियों को छोड़कर।
  • असंतुलित जीवन शैली को सुधार कर।
  • नशे की आदत छोड़कर।
  • योगा व व्यायाम द्वारा अपना स्टेमिना को बढ़ाकर।
  • सेक्स संयम विधि: जब आप सेक्स में अपने आपको चरमसीमा पर महसूस करें, तो संयम रखकर कुछ देर रूक जायें। अपने लिंग को अपने साथी से हटा लें, थोड़ा आराम करें और फिर शुरू करें। यानी अपनी उतावली कामुकता को संयमित करें।

मन के अवसाद, चिंता, भय को दूर कर, खुद पर आत्मविश्वास रखक

प्र. 5) शीघ्रपतन की समस्या से कैसे निपटें?

  • यदि आप अधिक उत्तेजित हो रहे हैं, तो गहरी सांस लेकर खुद को संयमित करने का प्रयास करें।
  • फोरप्ले के दौरान पत्नी को पूरी तरह से उत्तेजित करने के बाद ही सेक्स करें।

Read More : बिना किसी साइड इफेक्ट के लिंग का आकार बढ़ाने के 12 तरीके

प्र. 6) शीघ्रपतन की समस्या के लिए टिप्स:

  • पर्याप्त नींद लें।
  • सुबह की हवा लाख रुपए की दवा।
  • अवसाद व चिंता से बचें।
  • खुद के सेक्सोलाॅजिस्ट न बनें।
  • संतुलित आहार का सेवन करें।
  • पोर्न वीडियो, अश्लील साहित्य व कामुक विचार से परहेज करें।
  • शीघ्रपतन का अनुमान होते ही शर्म, संकोच छोड़कर चिकित्सा करायें।