• मेरा सभी युवाओं से निवेदन है कि आप इस तरह की दवाए बिना चिकित्सकीय परामर्श बिना न ले ! इससे पुरुष और महिला दोनों के शरीर पर बहुत हानिकारक प्रभाव पड़ता है। 

दरअसल यह गोली उन लोगों के लिए है जिनके लिंग में बिल्कुल भी उत्तेजना नहीं होती है, इरेक्टाइल डिसफंक्शन (नपुंसकता), इस गोली में सिल्डेनाफिल नाम की एक दवा होती है और यह गोली की लत को बढ़ावा देती है। अधिकांश लोगों को दुसरी वाली समस्या है (समयपूर्व स्खलन) उन्हें वियाग्रा की गोली नहीं लेनी चाहिए, 40 वर्ष से अधिक उम्र के अधिकांश लोगों को यह समस्या है और उन्हें डॉक्टर के पास जाने में शर्म नहीं करनी चाहिए क्योंकि इन समस्याओं के कारण बहुत सारी पारिवारिक समस्याएं होती हैं (तलाक, झगड़े, एक्स्ट्रा मैरिटल) अफेयर)। वास्तव में, आहार, व्यायाम और तनाव मुक्त जीवन सुखी यौन जीवन के लिए तीन स्तंभ हैं, और अंत में दवा।

आयुर्वेद में वियाग्रा का विकल्प क्या हैं ? Ayurvedic Alternative of Viagra

  • इस तरह की दवाओं का विकल्प आयुर्वेद में भी है जैसे – जातिफलादी बटी स्तंभक, बानरी वटी,  लेकिन इस तरह की दवाओं से फायदा कम और नुकसान ज्यादा होता है। आप अगर सामान्य रूप से स्वस्थ और प्रसन्न युवक हैं तो इस तरह की दवाओं का सेवन कभी भी नहीं करना चाहिए। दवा कंपनियां तो अपने फायदे के लिए भ्रामक विज्ञापन देकर लोगों को ऐसे दवा खाने के लिए उकसाते रहते हैं। आप किसी भी तरह के यौन रोग — शीघ्रपतन एवं नपुंसकता आदि से पीड़ित हैं तो प्रसिद्ध आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ युवराज अरोरा मोंगा ~ मोंगा क्लिनिक के संस्थापक से मिले जिन्हें ३५ सालो का इस फील्ड में बेहतर अनुभव हैं जिन्हें कई अवार्ड्स से नवाजा जा चुका है । जिन्होंने यौन रक्षा नव विवाहित दंपत्तियों जीवन में एक नया शारीरिक कमोजी को दूर कर उत्साह भरा है

शीघ्रपतन के इलाज के लिया क्या करे ? Premature Ejaculation Treatment

  • मोंगा क्लिनिक में आयुर्वेद, यूनानी सहित अन्य अनेक चिकित्सा पद्धतियों की जानकारी मिलती है। इसमें बताए आहार विहार के नियमों का पालन करते हुए बताए गए दवाओं का सेवन करें। आप निश्चित ही उपरोक्त समस्याओं से मुक्ति पा जाएंगे। यदि कोई युवा साफ मन से आचार विचार ठीक रखते हुए आहार विहार के नियमों का कठोरता से पालन करे तो बिना किसी दवा खाए भी शीघ्रपतन और नपुंसकता जैसे समस्याओं से लगभग छह महीने में मुक्त हो सकता है।(निरोगधाम -यौन रक्षा विशेषांक के अनुसार)
  • मोंगा क्लिनिक में सभी के लिए बहुत ही उपयोगी जानकारी मिलती है। आप यूगल पर मोंगा क्लिनिक सर्च करें। मोंगा क्लिनिक में यौन रोगों से संबंधित सभी आहार विहार उपचार एवं दवाओं की जानकारी मिलती है। सभी मांता बहनें इसमें अनेक उपयोगी जानकारी के अलावा गर्भावस्था में पालन करने योग्य नव मास चिकित्सा की जानकारी दी गई है।जिससे सामान्य तरीके से कम कष्ट में प्रशव होगा और श्रेष्ठ संतान की प्राप्ति होती है।
  • यौन दुर्बलता की प्रारंभिक अवस्था में शीघ्रपतन एवं आंशिक नपुंसकता की स्थिति में आयुर्वेदिक दवा  बहुत लाभदायक है।  शीघ्रपतन की प्रारंभिक अवस्था में आयुर्वेदिक गोक्षुरादि चूर्ण बहुत उपयोगी है। नपुंसकता के लिए सिद्ध मकरध्वज स्पेशल,कौंचापाक,बसंकुसुमाकर रस,कौंच चूर्ण एवं मुसली पाक आदि दवाएं बहुत उपयोगी हैं। आयुर्वेद और यूनानी चिकित्सा में यौन रोगों का सफलतापूर्वक इलाज होता है।