घर पर शुक्राणु की संख्या जांच करने से पहले जानिये ये 7 जरुरी बातें

घर पर शुक्राणु की संख्या जांच करने से पहले जानिये ये 7 जरुरी बातें

घर पर शुक्राणु की संख्या जांच करने से पहले जानिये ये 7 जरुरी बातें | आजकल खराब जीवनशैली, कामकाज और घरेलु मानसिक तनाव के कारण पुरुषों में शुक्राणु कम होने यानि इनफर्टिलिटी की समस्या बढती जा रही है|

आज के नवयुवक जल्दी संतान सुख पाना चाहते हैं लेकिन कुछ ऐसे पुरुष भी हैं जो सभी कोशिशों के बाद भी संतान सुख पाने से वंचित रह रहे हैं उसका छोटा सा कारण है पुरुष के वीर्य में शुक्राणु की संख्या कम होना|

कुछ लोग चिंतित रहते हैं की पहले ज्यादा हस्तमैथुन और बुरी आदतों की वजह से क्या उन्हें आगे के शादी शुदा जीवन में कोई problem तो नहीं आएगी| ऐसे लोग घर पर शुक्राणु की संख्या जांचने के बारे में बहुत ही बेताब रहते हैं|

आजकल ऑनलाइन साईट जैसे flipkart और amazon पर शुक्राणु की संख्या की जांच करने वाली kits आसानी से 1500 रूपए तक मिल जाती हैं जिनके द्वारा आप घर में ही आपने sperm count को जान सकते हैं

ऐसी kits से आप रिजल्ट्स १० मिनट्स में जान सकते हैं यदि आपका sperm count अच्छा आता है तो अच्छी बात है और यदि सामान्य से कम है तो नीचे 7 जरुरी बातें हैं जिनके बारे में आपको टेस्ट करने से पहले मालूम होना चाहिए|

 शुक्राणु की संख्या जांच करने से पहले जानिये ये 7 बातें

 स्वस्थ पुरुष में शुक्राणुओं की संख्या कितनी होनी चाहिए?

रिसर्च ने ये पता लगाया है की स्वस्थ पुरुष बिना किसी दिक्कत से अपने साथी को pregnant कर सकता है| स्वस्थ आदमी के एक मिलीलीटर वीर्य में 20 million (2 crore) या उससे जयादा शुक्राणु होने चाहिए| यदि टेस्ट में आपका रिजल्ट पॉजिटिव आता है तो आपके लिए ये अच्छी बात होगी|

घर पर शुक्राणु की संख्या जांच करने से पहले जानिये ये 7 जरुरी बातें
घर पर शुक्राणु की संख्या जांच करने से पहले जानिये ये 7 जरुरी बातें

शुक्राणु कितने दिनों में दोबारा बन जाते हैं? 

ये प्रशन अक्सर वो लोग पूछते हैं जिन्हें ये चिंता होती है की पहले की गयी गलतियों के कारण क्या उनमें वीर्य या शुक्राणु की कमी तो नहीं हो गयी | साथ ही लोग ये जानने के इच्छुक होते हैं की कितने दिनों या हफ़्तों में शुक्राणु फिर से बन जाते हैं| इस प्रशन का उतर है ये यदि आप नशे से दूर रहते हैं और स्वस्थ जीवन शैली और खान पान अपनाते हैं तो 10 हफ़्तों में आपके शुक्राणु की संख्या फिर से स्वस्थ हो जाती है| कुल मिलाकर ढाई महीनो में आप फिर से खोये हुए शुक्राणु फिर से प्राप्त कर सकते हैं| 

Read More : 24 घंटे के भीतर पाए पाइल्स के दर्द से राहत

Read More : जाने वियाग्रा सेवन करने के फायदे और नुकसान ?

रोजाना सम्बन्ध बनाने या हस्तमैथुन से शुक्राणु की संख्या पर क्या फर्क पड़ता है? 

रिसर्च ने ये पता लगाया है की यदि आप रोजाना एक बार हस्तमैथुन करते हैं या अपने पार्टनर के साथ शारीरिक सबंध बनाते हैं तो इससे शुक्राणु की संख्या घटती नहीं बल्कि ऐसा करने से नये शुक्राणुओं के बाने की गति में तेजी आती है| लेकिन ये बात ध्यान रहे की आपको स्वस्थ जीवन जीना होगा और limit से जयादा हस्तमैथुन करने से बचना होगा| 

उम्र का sperm count पर क्या प्रभाव पड़ता है? 

उम्र बढ़ने के साथ शुक्राणुओं की संख्या में कमी आती जाती है और रिसर्च में ये पाया गया है की 45 साल के बाद पुरुष को संतान सुख प्राप्ति में दिक्कत आती है और इस उम्र के बाद अपने साथी को pregnant करने की सम्भावना चार गुणा कम हो जाती है| 

खान पान का शुक्राणु की सेहत पर क्या प्रभाव पड़ता है?

 खान पान का आपकी सेहत और आपके शुक्राणु की सेहत से सीधा सम्बन्ध होता है यदि आप बुरी चीज़ें खायेंगे तो sperm count और शुक्राणु की क्वालिटी पर बुरा असर पड़ेगा इसी प्रकार अच्छा और स्वस्थ खाने से शुक्राणु की संख्या और उनकी गुणवत्ता बेहतर बनेगी|

 रिसर्च में ये पाया गया की जो लोग रोजाना बीटा कैरोटीन और lycopene युक्त चीज़ें जैसे टमाटर, पालक, गाजर आदि का नियमित सेवन करते हैं उनके शुक्राणु की संख्या और गुणवत्ता काफी अच्छी होती है|

रिसर्च ने ये भी पाया की मल्टीविटामिन का नियमित सेवन और omega fatty acids युक्त चीज़ों जैसे अलसी, salmon, अखरोट आदि का सेवन करते हैं उनके शुक्राणु तेजी से बनते हैं|

 आप अपने sperm count को जिंक, फोलिक एसिड और विटामिन C युक्त चीज़ों का सेवन करके भी बाधा सकते हैं| ये मिनरल्स, विटामिन्स और जरुरी एंटी ऑक्सीडेंट आप अच्छे multi विटामिन supplements का सेवन करके प्राप्त कर सकते हैं| 

Read More : 24 घंटे के भीतर पाए पाइल्स के दर्द से राहत

Read More : जाने वियाग्रा सेवन करने के फायदे और नुकसान ?

शरीर में कम पानी होने से कम होते हैं शुक्राणु :

 शुक्राणु की संख्या और उनकी गतिशीलता इस बात पर निभर करती है की आप कितना पानी पीते हैं| शरीर में पानी की कमी होगी तो वीर्य गाढ़ा हो जाएगा और जिसकारण शुक्राणु की गतिशीलता घटेगी| साथ ही वीर्य कम बनेगा और आप जानते हैं वीर्य शुक्राणुओं का भरण पोषण करता है| इसलिए यदि आप अपना स्पर्म काउंट बढाने के बारे में सोच रहे हैं तो दिन में खूब पानी और जूस पीयें|

गर्मी से शुक्राणु घटते हैं

कुछ लोग गर्म जल में बैठकर नहाते हैं वहीँ कुछ लोग लैपटॉप गोद में रख कर काम करते हैं| आप जानते हैं की ऐसा करने से अंडकोष का तापमान बढ़ता है जिसके फलसवरूप शुक्राणुओं के निर्माण में बाधा पहुँचती हैं| इसलिए अपने अंडकोष को गर्मी से बचा कर रखें और अपने स्पर्म काउंट बढाए

Read More: BENEFITS OF AYURVEDA AND HOW IT WORKS

Read More : चेहरा कैसे साफ करें: शीर्ष चेहरे की सफाई के लाभ और कदम

ये 7 बातें जानकार आप शुक्राणु की संख्या की जांच में पॉजिटिव परिणाम पा सकते हैं साथ ही आपको ये बातें पता भी होनी चाहिए ताकि आपकी शादी शुदा जिन्दगी में कोई परेशानी नहीं आये| अब प्रशन पूछने की बारी आपकी है और आपके मन में जो भी है हमसे शेयर करते हैं

Read More : जोड़ों का दर्द से राहत कैसे पाएं?- Joint Pain treatment in Hindi

Read More : बिना किसी साइड इफेक्ट के लिंग का आकार बढ़ाने के 12 तरीके