ऐसा कोई नियम या चैकलिस्ट नहीं है जो आपको बता दे कि कितनी बार सम्बन्ध बनाने हैं ये पति-पत्नी की आपसी सहमति पर निर्भर है। बेहतर होगा कि आप अपनी पत्नी से खुलकर बात करें और आपसी सहमति से निर्णय लें।

एक रात में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए

एक रात में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए?

Answer 1

संबंध बनाना स्त्री पुरुष के मानसिक ओर शारीरिक संतुष्टि पर है। फिर भी ऐसा कहा जाता है कि संयमित जीवन ही उचित है ओर अति हर चीज़ की बुरी। असित सरकार। और कोई काम न हो तो दिन में एक बार तथा रात मे दो बार

Read More : महिला की कितनी उम्र तक सम्बन्ध बनाने की इच्छा होती हैं?

Answer 2

आपकी इच्छा शक्ति पर निर्भर करता है जनाब।

यहाँ ऐसे सवाल मत कीजिये वरना कोई सिरफिरा आपको रात-दिन एक करने की सलाह दे देगा, फिर क्या मानेंगे आप?

Answer 3

और कोई काम न हो तो दिन में एक बार तथा रात मे दो बार।

दम हो तो बार-बार।

“कुछ बाकी है अभी “

Read More : स्तंभन दोष के लिए कुछ घरेलू उपचार क्या हैं जो वास्तव में काम करते हैं?

Answer 4

अपने और अपने साथी के विवेक और क्षमताओं के अनुरूप आप संबंध बना सकते है। ये आपका और आपके साथी का व्यक्तिगत मामला है, लेकिन इसके साथ साथ आप ये भी खयाल रखे की जब भी आप संबंध बनाए तो आपकी निजता का हनन न हो। क्योंकि शादी के बाद इन्ही पलो में आप अपने साथी से मानसिक शारीरिक और वैचारिक रूप में जुड़ते है।

Answer 5

ये गाना तो सुना ही होगा।

सुबह से लेकर शाम तक

शाम से लेकर रात तक

रात से लेकर फिर सुबह तक

मुझे प्यार करो। 😀

मै तो कहता हूं मरते दम तक करो।

Answer 6

जब तक अच्छी तरह गर्मी शांत न हो जाएं। सेक्स पर कंट्रोल से नुकसान हो सकता है। ज्यादा गर्वीले लोग एक दिन यानी 24 घण्टे में 8 से 10 बार आसानी से सेक्स कर सकते हैं। अतः फालतू की उलझन में न पड़कर वैवाहिक जीवन का सम्पूर्ण आनंद प्राप्त करें।

स्मरण रहे कि- दिमाग को रिलैक्स केवल सेक्स से ही मिल सकता है।

पति बोला कि- तुम्हारी आंखे, तो मोहब्ब्त की किताब है। पत्नी बोली किताबों को छोड़ो, नीचे पुस्तकालय में आग लगी है।

प्रेमी ने प्रेमिका को भरोसा दिलाया कि तुम्हें रानी की तरह रखूंगा। शादी के बाद प्रेमिका बोली…तुमने कभी बताया नहीं कि रानी नाम की पत्नी भी है….

प्रेमी बोला हमने कहा था ना कि तुम्हें रानी की तरह रखूंगा।

Answer 7

एक दिन और रात में कितनी बार सेक्स करना चाहिए इसकी कोई निश्चित संख्या नहीं है। शादी के शुरुआती दिनों में लोग बाद के महीनों की तुलना में ज्यादा सेक्स करते हैं। मेरी सलाह तो यही है कि आप दोनों अपनी इच्छा, सेक्शुअल अराउजल यानी उत्तेजना के आधार पर और अपनी टाइमिंग के आधार पर सेक्स करें।

Answer 8

सबकी अलग-अलग क्षमता होती है तो अपनी क्षमता को ध्यान में रखते हुए संबंध बनाने चाहिए ।

हमारे शास्त्रों में ऐसा कहा गया है कि “अति सर्वत्र वर्जयेत्” जिसका हिंदी शब्दार्थ है कि “अति करने से हमेशा बचना चाहिए”, अति का परिणाम हमेशा हानिकारक होता है।

Answer 9

यह पार्टनर के व्यक्तिगत क्षमता और मूड पर निर्भर है । वैसे एक दिन में एक बार ही बहुत है ।

Answer 10

शारीरिक संबंध बनाना एक प्राकृतिक क्रिया है जो सामाजिक परिवेश के अंतर्गत आपसी सहमति और क्षमता पर निर्भर करता है। युवावस्था में इसे प्रतिदिन कई बार कर सकते है। उम्र बढते रहने पर इसमें स्वतः कमी आने लगती है। इसलिए इसका कोई मानदंड सुनिश्चित नहीं किया जा सकता है’

Answer 11

कम से कम दो बार या जब दिल करे तब करो

Answer 12

चाहे जीतना बनालो । दोनों का मन करें उतनिबार संबंध बना सकते हो।

Answer 13

शादी के बाद शरीर में डोपामाइन नाम के रसायन की मात्रा बढ़ जाती है। जिसके कारण इंसान को थकावट महसूस नहीं होती। और वो कई बार संभोग कर लेते है। ये सिलसिला कम से कम ३-६ महीने तक चलता है। फिर धीरे धीरे रोजमर्रा की जिंदगी के तहत संभोग की प्रक्रिया कम कम होती जाती है। तो कहने का मतलब ये है की ये आपकी जिंदगी है। तो इसे आप कैसे जीते हो ये आप पर निर्भर करता है। इसलिए कितनी बार संबंध बनाना है ये लड़का लड़की को ही तय करना चाहिए। इसमें किसी की ना सुने। केवल दोनो ही विवेक से निर्णय ले(केवल स्वास्थ्य का ध्यान रखे। कठिन और अंजान आसनों का प्रयोग न करे। और थकावट अधिक हो तब रुक जाए, फिर से ऊर्जा प्राप्त करे और फिर प्रयास करे। और सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण बात: एक दूसरे की इच्छा का सम्मान करे। जब दोनो तैयार हो तभी आगे बढ़े। सेक्स से ज्यादा ध्यान कामक्रिया पर दे)।

Answer 14

सैक्स ज्यादा करने से इच्छा ज्यादा बढ़ेगी और सैक्स का टाइम घटने लगेगा जिससे पत्नी संतुष्ट नहीं रहेगी। संबंध कम बनाए जिससे जब संबंध वनाए तो ज्यादा देर तक चले

Answer 15

समय और छमता पर निर्भर होता है

Answer 16

डायरेक्ट मैच स्टार्ट करने से पहले, साथी की तबीयत का भी ख्याल रखना। जब साथी भी उतना ही रेडी हो तो फ़िर जवाब वो खुद ही से देगा। जो कि निम्न है

“जीतना तुम कर सको”

दिन ओर रात का अलग अलग डिसाइड नहीं होता। ओर आधुनिक काल में इसकी कोई सीमा नहीं है। ना अधिकतम ओर ना ही न्यूनतम। पर साथी कि संतुष्टि हर बार हो ये ज़रूरी है। आप के अंग विशेष में अगर दम ना बचे तो भी बहुत कुछ है आपके पास।

(ये सब मेरे विचार है जो कि 100% सही हो जरूरी नहीं)

Answer 17

शादी से पहले आप केवल खुद के बारे मे सोचते हो। पर शादी के बाद ऐसा नही होता हैं। शादी के बाद अपने साथी के लिए भी सोचना पड़ता है। शादी के पहले आजाद होते हो जॊ करना चाहते हो वही करते हो पर शादी के बाद अपनी पत्नी कि सुन्नी पड़ती है। कुल मिलाकर आप शादी के बाद आजाद नही रहते हैं।

Answer 18

औरत की लगातार सैक्स करने की कोई सीमा नहीं है।कितने भी पुरुष एक औरत के साथ सैक्स कर सकते हैं।सीमा तो पुरुष की होती है क्योंकि एक बार सैक्स के बाद दोबारा करने के लिए लिंग के खड़ा होने में समय लगता है।

Answer 19

एक रात मे चार बार भी किया जा सकता है इसका ऐसा कोई नियम नही है

Answer 20

बहुत सालों पहले एक बहुत ही खूबसूरत टीवी मॉडल लड़की के साथ एक रात (२००००) में तीन बार कर पाया था, वो तो बोल रही थी तू कमजोर है सेक्स में, तगड़े वाले लडके तो पांच छह बार करते हैं ।

Read More : ज्यादा देर तक करने की टेबलेट