यौन रोग की समस्या के लिए कीजिए हमारे द्वारा परखे गए Sexologist से ऑनलाइन बात 24×7!

 सौंफ फूड सप्लीमेंट: सौंफ के इलाज के फायदे (Benefits of Fennel in Hindi)

क्या है सेक्सोलॉजी ?

सेक्सोलॉजी मेडिकल साइंस का एक विभाग है जिसमें लोगों के यौन व्यवहार और उनकी यौन इच्छाओं के बारे में जाना जाता है | यौन अभिविन्यास, यौन सम्बन्ध और यौन सम्बन्धी समस्याएं भी सेक्सोलॉजी के अंतर्गत आती हैं | सेक्सोलॉजी हर उम्र, चाहे बच्चें हो या बूढें, हर इंसान के बारे में है | सेक्सोलॉजी के विशेषज्ञ डॉक्टर को सेक्सोलॉजिस्ट कहते हैं |

सेक्सोलॉजिस्ट क्या करते हैं ?

सेक्सोलॉजिस्ट को यौन रोग विशेषज्ञ भी कहा जाता है, ये लोगों के यौन व्यवहार, इच्छाएं और समस्याओं को समझते हैं और फिर ज़रूरत के अनुसार इलाज करते हैं | इनकी मदद से आप अपनी यौन समस्याओं जैसे की शीघ्र पतन, स्तंभन दोष आदि के बारे में खुलकर बात कर सकते हैं | यौन शोषण, यौन आघात और यौन सम्बन्ध बनाने में हिचकिचाहट जैसी समस्याओं के बारे में भी आप इनसे बात कर सकते हैं | यदि आपके साथी और आपके बीच कोई परेशानी चल रही है तो आप एक सेक्सोलॉजिस्ट से परामर्श कर सकते हैं |

कब करें सेक्सोलॉजिस्ट से बात ?

किसी भी प्रकार की यौन समस्या चाहे साथी से सम्बन्ध बनाने की बात हो, यौन अभिविन्यास, यौन रोग, यौन इच्छाओं का कम होना, यौन सम्बन्ध बनाने में हिचकिचाहट आदि के लिए आप सेक्सोलॉजिस्ट से बात कर सकते हैं | आप एक सेक्सोलॉजिस्ट से सेक्स से समबन्धित बात भी कर सकते हैं | यदि आपको सेक्स के पहले अनुभव को बेहतर बनाना है तो, इस बारे में आप एक सेक्सोलॉजिस्ट से परामर्श कर सकते हैं |

क्यों लेना चाहिए सेक्सोलॉजिस्ट से परामर्श ?

ज़्यादातर लोग सेक्सोलॉजिस्ट के पास जाने और उनसे बात करने से कतराते हैं, क्योंकी हमारे देश में सेक्स के बारे में बात करना उचित नहीं माना जाता | लेकिन हमें यह समझने की ज़रूरत है की हमारे सम्पूर्ण शारीरिक स्वास्थ्य में हमारा यौन स्वास्थ्य भी बेहद महत्वपूर्ण है | एक सेक्सोलॉजिस्ट से ऑनलाइन परामर्श लेने से आप अपनी यौन समस्याओं के बारे में खुलकर बात कर सकते हैं और अपनी समस्या का इलाज भी पा सकेंगे |

ऑनलाइन परामर्श किस प्रकार मददगार है ?

ऑनलाइन परामर्श न केवल आपकी पहचान छुपाते हैं बल्कि आपका समय भी बचाते हैं | क्योंकी अक्सर लोग एक सेक्सोलॉजिस्ट से बात करने से बचते हैं और इस विषय के लिए अपना समय निकालना नहीं चाहते | इसलिए डॉक्टर से ऑनलाइन बात करने से आप अपनी गुप्त समस्या का हल बिना किसी पहचान दिए बिना ही पा सकते हैं |

हमारे सेक्सोलॉजिस्ट्स करते हैं इनका इलाज

शीघ्र पतन, स्तंभन दोष, हस्तमैथुन, नपुंसकता और लिंग के आकार के लिए आप हमारे यौन रोग विशेषज्ञों से बात कर सकते हैं | यौन रोग विशेषज्ञ आपको यौन समस्याओं के बारे में खुलकर बात करने के लिए भी प्रोत्साहित करते हैं | वे अपने मरीज़ों की परेशानी को समझते हैं और उन्हें यौन समस्याओं के कारण होने वाली मानसिक और शारीरिक परिणामों के बारे में बताते हैं | ऑनलाइन यौन रोग विशेषज्ञ आपकी समस्या के अनुसार दवाई या थैरेपी की मदद से आपका इलाज करते हैं |

खतना और फोरस्किन – पुरुष के लिंग से फोरस्किन हटाने की प्रक्रिया को खतना कहते हैं | हमारे यौन रोग विशेषज्ञ फोरस्किन से सम्बंधित समस्याएं भी हल करते हैं | इसके अलावा संक्रमण का खतरा, शिशुओं में खून बहना, तनाव के साथ लिंग में दर्द होना और जवान पुरुषों में फोरस्किन की समस्याएं |

शुक्राणुओं की गतिशीलता और संख्या – आमतौर पर 1 मिलीलीटर वीर्य में 15 मिलियन से लेकर 200 मिलियन से भी अधिक शुक्राणु पाए जाते हैं | यदि 1 मिलीलीटर वीर्य में 15 मिलियन शुक्राणु से कम हो या फिर वीर्यपात करने पर यदि 39 मिलियन से कम शुक्राणु निकलें तो इसे शुक्राणुओं की कमी माना जाता है | शुक्राणुओं की गतिशीलता और संख्या पुरुषों की प्रजनन क्षमता को प्रभावित करती है | इस प्रकार की समस्याओं में डॉक्सऐप के यौन रोग विशेषज्ञ आपकी मदद कर सकते हैं | यदि 32% से कम शुक्राणु शरीर में ठीक तरह से न घूम पाएं तो इसे लो स्पर्म मोटिलिटी कहते हैं | इसके कई कारण हैं जैसे की – संक्रमण, कोई चोट या घाव, अनुवांशिक समस्याएं और स्टेरॉइड्स |

लिंग का आकार – पुरुषों के लिंग के आकार को लेकर सभी सवाल उठाते हैं | दोस्तों और समाज के दवाब के कारण पुरुष अपने लिंग के आकार पर सवाल उठाते हैं | यौन रोग विशेषज्ञ पुरुषों को उनके लिंग के कारण होने वाली चिंता और घबराहट के बारे में भी बात करते हैं |

स्तंभन दोष (ईडी) – इरेक्टाइल डिसफंक्शन और नपुंसकता, के दौरान पुरुष अपने लिंग में तनाव बनाए रखने में असफल हो जाते हैं | इसके कई कारण हैं जैसे की – तनाव, घबराहट, धूम्रपान और शराब का सेवन | शारीरिक कारण भी हैं जैसे की – मोटापा, डायबिटीज, हाई बीपी, ज़्यादा कोलेस्ट्रॉल, नींद की परेशानी और कुछ दवाईयों के दुष्प्रभाव | लिंग में तनाव के लिए सही रक्त बहाव ज़रूरी है | स्तंभन दोष के इलाज के लिए ज़रूरी है – खान पान की आदतें बदलना, नियमित व्यायाम करना, दवाईयाँ , धूम्रपान और शराब का सेवन कम करना, तनाव कम करना आदि |

शीघ्र पतन – शीघ्र पतन में एक पुरुष के द्वारा जल्दी वीर्यपतन हो जाता है | तनाव, पछतावे, घबराहट के कारण भी जल्दी वीर्यपतन हो सकता है | बहुत ही कम पुरुषों में इसका कारण अनुवांशिक होता है | शीघ्र पतन के लिए डॉक्टर से ऑनलाइन परामर्श लीजिए, ताकि इसका सही कारण पता चल सके और इलाज हो सके और आप अपना यौन जीवन सुधार सकें |

हस्तमैथुन – हस्तमैथुन एक प्राकृतिक यौन प्रक्रिया है, जिसका आमतौर पर शरीर पर कोई गंभीर असर नहीं पड़ता | लेकिन यदि यह अधिक बार किया जाए तो थकान और यौन संवेदनशीलता में कमी आ सकती है | हस्तमैथुन को लेकर अनेक धारणाएं हैं, बहुत से लोग इसे करने के बाद आत्मग्लानि का एहसास करते हैं | यौन रोग विशेषज्ञ आपको सही सलाह देकर आपकी मदद कर सकते हैं |

चरम सुख की प्राप्ति न हो पाना – इसे अनोर्गास्मिया भी कहा जाता है, इसके दौरान व्यक्ति को चरम सुख की प्राप्ति नहीं हो पाती | ओर्गेस्म के मुद्दे महिआलों में ज़्यादा देखे जाते हैं | अनोर्गास्मिया होने के कई कारण होते हैं | इन कारणों में शामिल हैं – तनाव, घबराहट, यौन शोषण, डायबिटीज आदि | अन्य कारण जैसे की – आत्मविश्वास की कमी, धार्मिक और समाजिक कारण, अपमानजनक रिश्ते, भरोसे की कमी, बढ़ती उम्र आदि | दवाईयों और सेक्स थैरेपी की मदद से इसका इलाज मुमकिन है |